TV, स्मार्टफोन देखने से आँखें खराब होती हैं या नहीं?

हमारे शरीर में नशें मौजूद होती हैं और ये नशें नीली या फिर हल्के हरे रंग की दिखाई देती हैं लेकिन क्या सचमें नीली या हरे रंग की ही होती है? हम सबको पता है हमारे खून में Hemoglobin है और Hemoglobin के अंदर iron मौजूद होता है जो oxygen molecules के साथ रियेक्ट करता है और खून का कलर लाल हो जाता है, अगर हमारे खून में iron कम copper ज्यादा होता तब हमारा खून नीले रंग का हो जाता जैसे आक्टोपस के शरीर में copper ज्यादा होता है iron कम और तभी उसका खून नीले रंग का होता है, पर हम इंसानों में iron ज्यादा copper कम होता है फिर क्यों हमारे हाथ की नशे नीले, हरे रंग की दिखाई देती हैं? दरअसल आप जब अपनी नशें देखते हो तब copper ज्यादा दिखाई देता है क्योंकि आपकी स्किन के नीचे ही copper मौजूद होता है लेकिन नशों का कलर नीला नहीं बल्कि लाल रंग होता है ये सब copper के चलते होता है।
1. TV, स्मार्टफोन देखते समय आप आखों को कम झपकाते हो इससे आपकी आँखों का पानी सूख जाता है, स्मार्टफोन देखते समय आपकी आँखें नीचे की साइड होती हैं इससे आपकी आँखों की नशे खिच जाती हैं और आपके सर में दर्द भी होने लगता है, ऐसा तभी होता है जब आप 2 से 3 घण्टे तक लगातार अपने फोन या TV को देखते हो अगर आप ऐसा हर दिन करते हो तब आपको उन तीन घण्टों के अंदर करीब 6 बार रेस्ट लेना चाहिए क्योंकि इससे आपकी आँखें ओर आपके सर में दर्द नहीं होगा, आखें खराब होने का सबसे बड़ा कारण यही होता है कि आप अपनी आंखों को कम झपकाते हो ओर अपने फोन की लाइट यानी चमक ज्यादा रखते हो क्योंकि आपकी आँखों का पानी सूख चुका होता है और आपकी आँख के अंदर मौजूद पुतली पर तेज रोशनी पड़ती है, बहुत से ब्लॉग ओर वीडियो ऐसे भी मौजूद हैं जिनमें बताया गया है कि TV या स्मार्टफोन देखने से आंखें नहीं खराब होती है, लेकिन यह सब झूंठ है सच बात कहूँ तो आपको TV या स्मार्टफोन देखते समय रेस्ट लेना जरूरी है अगर आप रेस्ट नहीं लेते हैं तब इसका असर आपकी आँखों पर पड़ सकता है।।
https://www.ipl2020ipl.com/2019/11/ipl-2020-team-players-name-and-price.html

Comments