नशा क्या है, नशा कैसा होता है, शराब में नशा क्यों होता है

आपके दिमाग में लाखों की संख्या में कैमिकल मौजूद हैं जोकि अपने समय-समय पर रिलीज होते रहते हैं. इन मैसे 5 कैमिकल ऐसे हैं जो आपकी लाइफ को बैलेंस रखते हैं. इनका नाम है, endorphin, oxytocin, serotonin, vasopressin और सबका बाप dopamine है, dopamine एक ऐसा कैमिकल है जिसे आपका दिमाग तब रिलीज करता जब आप खुश होते हो dopamine अपने समय के हिसाब से रिलीज होता रहता है. लेकिन जो लोग नशा करते हैं उनके भी दिमाग में dopamine रिलीज होता है ओर यही वो कारण है जिसके लिए लोग नशा करते हैं, इसके अलावा जब आप किसी लड़की या लड़के से प्यार करते हो ओर आप दोनों जब एक दूसरे को नजरें मिलाकर देखते हो उस समय भी dopamine रिलीज होता है, इतना ही नहीं जब आप किसी से प्यार करते हो ओर वो आपको छोड़कर दूर चला जाए या उसके साथ आपका ब्रेकअप हो जाता है, तब आपका दिमाग इन पांचों endorphin, oxytocin, serotonin, dopamine, vasopressin  कैमिकल को एक साथ रिलीज करता है ओर यही है दुनिया का सबसे बड़ा नशा इस नशे से बड़ा दुनिया में कोई भी नशा मौजूद नहीं है, आज हम आपको इन नशों के बारे में अच्छी तरह से समझाने की कोशिश करेंगे और इन्हें कैसे कम किया जा सकता है, आप इस आर्टिकल को लास्ट तक जरूर पढ़ना।

              
1. जब आप गुटखे या तम्बाकू या फिर सिगरेट का नशा करते हो तब आपका दिमाग 36 घण्टों का dopamine रिलीज करता है इससे आपको 15 से 20 मिनट तक एक अलग तरह की खुशी महसूस होती है उसके बाद आपको कुछ अच्छा नहीं लगता है क्योंकि आपको उस dopamine की जरूरत होती है जो आपके दिमाग में मौजूद था इसी के चलते आप फिर से गुटखा, सिगरेट या तम्बाकू का सेवन करते हो ताकि आपको फिरसे वही खुशी मिले जो आपको कुछ मिनट के लिए मिली थी।


2. जब आप दारू का सेवन करते हो तब आपका दिमाग 17 से 21 दिन का dopamine रिलीज करता है इससे आपको 8 से 14 घण्टों तक अच्छा महसूस होता है जैसे कि आप एक अलग दुनिया में जी रहे हो.Dopamine का असर खत्म होने के बाद आपको उतना ही बुरा महसूस होता है जितना आपको कुछ घण्टों के लिए अच्छा महसूस हुआ था.इसके बाद अगर आप दारू का सेवन नहीं करते हो तब आपको 21 दिन तक कुछ भी अच्छा नहीं लगेगा क्योंकि आपने उन 21 दिन का dopamine एक साथ इस्तेमाल कर लिया है.सिर्फ कुछ घण्टों तक अच्छा महसूस होने के लिए आपने 21 दिन का dopamine खर्च कर दिया है.और फिर से अच्छा फील करने के लिए आप दारू का सेवन करते हो यही वो कारण है जिसे पाने के लिए आप रोजाना दारू का सेवन करते हो।

3. Oxytocin नाम का कैमिकल तब रिलीज होता है जब आप किसी से हाथ मिलाते हो या गले मिलते हो या फिर किसी लड़की या लड़के को छूती या छूते हो जब आपका कोई करीबी इंसान आपसे दूर जाता या जाती है. उस समय भी oxytocin कैमिकल को रिलीज करता है, endorphin जब आप फुटबॉल या क्रिकेट खेलते हो या फिर जिम या योगासन करते हो तब eidorphin कैमिकल रिलीज होता है, serotonin जब कोई व्यक्ति आपकी तारीफ करता है या फिर आपको लाइक करता है तब serotonin कैमिकल रिलीज होता है, dopamine नशा, प्यार, ब्रेकअप, खुशी, या फिर सफलता पाने से dopamine कैमिकल रिलीज होता है, vasopressin रोते समय या उदास होना, किसी बात का बुरा लगना या फिर गुस्सा आना. तब आपका दिमाग vasopressin को रिलीज करता है।
4. जब आप किसी लड़की या लड़के से बेहिसाब प्यार करती/करते हो और वो  आपको छोड़ दें तब होता है दुनिया का सबसे बड़ा नशा, oxytocin, serotonin, endorphin, dopamine, vasopressin ये पांचों कैमिकल एक साथ रिलीज होते हैं, और ये नशा कोकेन, हिरोइन, शराब, इन तीनों के  नशे को मिलाकर भी 100 गुना ज्यादा होता है. क्योंकि ऐसा कोई भी नशा नहीं है जिसमें ये पांचों कैमिकल रिलीज होते हों। गजब की बात तो ये है कि इस नशे को करने की लत भी लग जाती है, क्योंकि अगर आपने इसे 3 से 4 महीने में रिकवर कर लिया उसके बाद आप फिरसे उन बातों का ध्यान करोगे जो प्रेमी के साथ करती/करते थे, और ये बातें आपको इतनी ज्यादा याद नहीं होतीं हैं. लेकिन आप इन्हें सोच-सोचकर याद करते हो और क्यूँ याद करते हो क्योंकि आपको वही नशा फिर से करना है जिससे आप गुजर चुके हो।

5. दारू, सिगरेट, तम्बाकू, गुटखा छोड़ने के तरीके- अगर आप शराब का सेवन 8 या 15 दिन में एक बार ही करते हो, तो आज इसे कुछ दिनों में ही छोड़ सकते हो जैसे कि आपने 15 दिन में एक बार शराब का सेवन किया उसके बाद आप 22 से 25 दिन तक कोई भी नशा मत करो आप पूरी तरह से एक नार्मल इंसान की तरह हो जाओगे. अगर आप रोजाना शराब का सेवन करते हो. तो इससे आपको पीछा छुड़ाने के लिए थोड़ा मुश्किल हो सकता है लेकिन इतना मुश्किल भी नहीं है कि आप इससे पीछा ना छुड़ा पाओ, इसके लिए आपको सबसे पहले अपनी नींद बढ़ानी होगी जैसे कि अगर आप 8 घण्टे सोते हो तब आपको 12 घण्टे सोने की जरूरत है क्योंकि आपका दिमाग सोते समय ही dopamine बनाता है जिसे आप हर दिन निचोड़ लेते हो, ज्यादा नींद लेने से जो 21 दिन का dopamine खर्च किया है बो 10 दिन में ही पूरा हो जाएगा. उसके बाद आपको 42 दिन के बाद में एक बार शराब का सेवन कर सकते हो इससे आपके दिमाग में 4 बार शराब पीने के बराबर dopamine मिल जाएगा दूसरी बार आपको 90 दिन में एक बार फिर से शराब का सेवन कर सकते हो अगर आपका मन कर रहा है तो पीने के बाद आपको फिरसे 35 दिन नहीं पीना चाहिए. 35 दिन के बाद आपका मन शराब पीने के लिए फीका पड़ जाएगा. क्योंकि ऐसा करने से आपका दिमाग उस dopamine को काफी ज्यादा जल्दी पूरा करेगा. 90 दिन के बाद शराब नहीं पीते हो, तो आप पूरी तरह से रिकवर हो जाओगे और आप एक नार्मल इंसान की तरह जिंदगी जीने लगोगे, अगर आप इतना कर लेते हो तो मैं गारंटी लेता हूँ, दोबारा आपका मन शराब पीने का नहीं करेगा। गुटखा, सिगरेट, तम्बाकू छोड़ने के लिए आपको सिर्फ 45 दिन का इंतजार करना पड़ेगा इसके बाद आप पूरी तरह से रिकवर हो जाओगे। सीधी भांसा में कहूँ तो आपको उस dopamine को पूरा करना होगा जिसे आपने बिना जरूरत के खत्म किया है।।

टिप्पणियाँ