ज्यादा पढ़ाई करना गलत है

दोस्त सबसे पहले मैं आपसे यही कहूंगा, पढ़ाई करना गलत नहीं है लेकिन पढ़ाई करवाना पूरी तरह से गलत है क्योंकि अपने मन से पढ़ाई करने वाले लोगों का ध्यान पढ़ाई पर होता है और जब आपके ममी-पापा आपको जबर्दस्ती स्कूल भेजते हैं और आप पढ़ने जाते हो उसे पढ़ाई नहीं एक तरह की जेल कहते हैं, क्योंकि आपका मन पढ़ाई पर नहीं बल्कि किसी और काम पर इंटरेस्ट रखता है, दोस्त हमारी बेवसाइट का नाम ही Science facts है, तो हर आर्टिकल आपका दिमाग हिलाने के लिए काफी होगा, आज का आर्टिकल आपके लिए कुछ खास होने वाला है. इसे लास्ट तक जरूर पढ़ना। 
               
कुछ इंसान इस तरह के होते हैं जो अपनी आगे की जिंदगी अच्छी तरह से समझ लेते हैं, और कुछ इंसान जिंदगी तो बहुत दूर की बात है उन्हें ये भी नहीं पता होता है उनके साथ क्या हो रहा है ओर कुछ लोगों को पता होने के बावजूदभीअपने टैलेंट अपनी जिंदगी को कैद रखते हैं.आपको एक कामयाब इंसान बनने के लिए पढ़ाई ही नहीं बल्कि आपका टैलेंट ओर दिमाग दोनों ही जरूरी है, साल 2017 में एक रिसर्च की गई थी सिर्फ ये पता करने केलिए कि ज्यादा पढ़ाई करने वाले लोग कामयाब होते हैं या फिर वो लोग जो कम पढ़ाई करते हैं, उसके बाद रिसर्च में पाया गया, जो लोग अपनी दिल जान लगाकर पढ़ाई करते थे और एक से एक डिग्री उनके पास थी फिर भी उन लोगों मैसे 5%लोग ही कामयाब हुए थे.और इधर जिन्होंने बहोत कम पढ़ाई की थी. जिनके पास कोई डिग्री नहीं थी वो लोग 95% कामयाब हुए थे.
जो लोग पढना पसंद करते हैं ओर पढकर ही कामयाब बनने की ठान ली है वो लोग तो सही हैं, लेकिन उनका क्या होगा जो लोग एक अलग तरह का टैलेंट लेकर बिना मन के पढ़ाई कर रहे हैं? एक genius ने कहा था कि अगर आप किसी मछली से कहो पेड़ पर चढ़ जाओ और वो मछली पेड़ पर ना चढ़ पाए फिर आप कहो येमछली नालायक है इसने मेरी बात नहीं मानी मेरे लाख कहने के बाद भी पेड़ पर नहीं चढ़ी, तो इसमें मछलीकी कोई गलती नहीं है क्योंकि उसे पेड़ पर चढ़ना नहीं आता है, उसमें वो टैलेंट नहीं है जो आप उससे बोल रहे हो.मछली पानी में रहती है ओर उसके पास जितने भी टैलेंट हैं वह उन्हें पानी के अंदर ही दिखा सकती है. जैसे तैरना, पानी के अंदर सांस रोकंना, पानी में देखना ओर पानी के अंदर सुनपाना यही हैं उसके टैलेंट आप कितना भी उससे कहो पर वह पेड़पर नहीं चढ़ सकती है,

और ऐसा ही आपके साथ हो रहा है आप स्कूल में पढ़ने तो जाते हो लेकिन आपका टीचर आपको जो भी बताता है आप उसे रटना शुरू कर देते हो ओर अच्छी तरह से रट लेते हो लेकिन आपका दिमाग किसी तरह की कोई भी रटी चीज को कुछ दिनों बाद भुला देता है. ओर जब आपको उसकी जरूरत पड़ती हैं वो चीज आपको मालूम ही नहीं होती है, लेकिन जब भी आप मन लगाकर कोई काम करते हो वो आपके दिमाग में स्टोर होता रहता है.पूरी जिंदगी आपको  ध्यान रहता है. कामयाब बनने के लिए ज्यादा पढ़ाई जरूरी नहीं होती है, बस आपको अपने अंदर छुपे हुए टैलेंट को पहचानने की जरूरत है, आप फेसबुक के बारे में अच्छी तरह से जानते होंगे, लेकिन क्या आप जानते हो?फेसबुक के मालिक mark Zuckerberg के पास कोई भी डिग्री नहीं थी.फिर भी एक छोटी सी एप बनाकर उसे इतना बड़ा बना दिया जिसकी कीमत 70 billion डॉलर है.
साल 2015 में साइंटिस्टों ने एक रिसर्च की थी सिर्फ ये पता करने के लिए कि, ज्यादा पढ़ाई करने वाले लोग मालिक बन पाते हैं या फिर कम पढ़ाई करने वाले लोग मालिक बनते हैं.उसके बाद पता चला कम पढ़ाई करने वाले लोग 55% मालिक बने थे ओर ज्यादा पढ़ाई करने वाले लोग 12% मालिक बने थे वाॅकी के 33% लोग नौकर ही बन पाए, लेकिन गजब फैक्ट तो ये है कि, कम पढ़े लोगों मैसे एक भी नौकरनहीं बना और जब इस रिसर्च के बारे में मुझे पता चला तब मेरी तो सिटी विट्टी गुम हो गई थी.

इसके साथ- साथ एक फैक्ट और जानलो, Google के पास जितने भी लोग काम करते हैं, उन मैसे 65% लोगों के पास कोई डिग्री नहीं है. क्योंकि Google डिग्री नहीं टैलेंट देखता है॥
https://www.ipl2020ipl.com/2019/11/ipl-2020-team-players-name-and-price.html?m=1

Comments